गुरुवार के लिए तिथि, शुभ मुहूर्त, राहु काल और अन्य विवरण देखें

0


विक्रम संवत 2078 के ज्येष्ठ माह में, 17 जून को शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि है। दिन गुरुवारा (गुरुवार) होगा। और 17 जून को भद्रा योग भी मनाया जा रहा है। पंचांग में ‘भद्रा’ वह समय होता है जिसमें कोई भी शुभ कार्य करना वर्जित माना जाता है। जब बुध ग्रह कन्या या मिथुन राशि में आता है और लग्न से किसी एक केंद्र भाव में अर्थात 1, 4 वें, 7वें या 10वें भाव में होता है, तो भद्र योग बनता है।

यहाँ सूर्योदय, सूर्यास्त समय, शुभ मुहूर्त, राहु कलाम और 17 जून के अन्य विवरण दिए गए हैं:

१७ जून के लिए सूर्योदय और सूर्यास्त का समय:

  • सूर्योदय का समय- 05:23 AM
  • सूर्यास्त का समय- 07:21 अपराह्न
  • चंद्रोदय का समय- सुबह 11:26 बजे
  • चंद्रास्त समय- 12:32 AM

17 जून के लिए तिथि, नक्षत्र और राशि विवरण:

सप्तमी तिथि 16 जून की शाम को 9:59 बजे तक और रात 10:13 बजे तक पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र रहेगा.

सूर्य मिथुन राशि में रहेगा जबकि चंद्रमा सिंह राशि में रहेगा।

17 जून को शुभ मुहूर्त:

पंचांग शुभ मुहूर्त की भविष्यवाणी करता है और कुछ नया शुरू करने के लिए हिंदू धर्म में इसका महत्वपूर्ण रूप से पालन किया जाता है। 17 जून को सभी चार मुहूर्त मनाए जाएंगे, जिनमें विजय मुहूर्त, गोधुली मुहूर्त, अभिजीत मुहूर्त और अमृत कलाम शामिल हैं।

वैसे तो सभी मुहूर्त शुभ माने जाते हैं, लेकिन नई शुरुआत करने का सबसे आदर्श समय अभिजीत मुहूर्त है।

17 जून को शुभ मुहूर्त का समय नीचे दिया गया है:

  • विजया मुहूर्त – प्रातः 04:03 से प्रातः 04:43 तक
  • गोधुली मुहूर्त – सुबह 11:54 से दोपहर 12:50 बजे तक
  • अभिजीत मुहूर्त – शाम 07:07 बजे से शाम 07:31 बजे तक
  • अमृत ​​कलाम – दोपहर 03:50 बजे से शाम 05:26 बजे तक

17 जून के लिए अशुभ समय:

राहु कलाम किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत के लिए सबसे अशुभ समय माना जाता है। 17 जून को राहु कलाम का समय दोपहर 02:06 बजे से 03:51 बजे के बीच है। 17 जून के लिए अन्य अशुभ समय हैं –

  • आदल योग – सुबह 05:23 से रात 10:13 बजे तक
  • गुलिकाई कलाम – सुबह 08:52 से 10:37 बजे तक

सभी पढ़ें ताजा खबर, आज की ताजा खबर तथा कोरोनावाइरस खबरें यहां

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here