नियोजित आईपीओ से पहले चीनी नागरिक पेटीएम बोर्ड से हटे; शेयरधारिता में कोई बदलाव नहीं

0


कंपनी की नियामक फाइलिंग के अनुसार, डिजिटल भुगतान फर्म पेटीएम के बोर्ड में सभी चीनी नागरिकों को अमेरिकी और भारतीय नागरिकों द्वारा बदल दिया गया है, जबकि मौजूदा शेयरधारिता में कोई बदलाव नहीं हुआ है। नियामक दस्तावेज के अनुसार, Alipay प्रतिनिधि जिंग जियानडोंग, एंट फाइनेंशियल के गुओमिंग चेंग, और अलीबाबा के प्रतिनिधि माइकल यूएन जेन याओ (अमेरिकी नागरिक) और टिंग होंग केनी हो कंपनी के निदेशक नहीं रह गए हैं।

एक सूत्र के मुताबिक, पेटीएम के बोर्ड में अब कोई चीनी नागरिक नहीं है। अमेरिकी नागरिक डगलस फेगिन एंट ग्रुप की ओर से पेटीएम बोर्ड में शामिल हो गए हैं।

बर्कशायर हैथवे के प्रतिनिधि टॉड एंथोनी कॉम्ब्स, सामा कैपिटल के अशित रंजीत लीलानी और सॉफ्टबैंक के प्रतिनिधि विकास अग्निहोत्री भी बोर्ड में शामिल हो गए हैं, कंपनी की फाइलिंग से पता चला है। पेटीएम के शेयरधारकों में अलीबाबा का एंट ग्रुप (29.71 फीसदी), सॉफ्टबैंक विजन फंड (19.63 फीसदी), सैफ पार्टनर्स (18.56 फीसदी) और विजय शेखर शर्मा (14.67 फीसदी) शामिल हैं। कंपनी में एजीएच होल्डिंग, टी रो प्राइस, डिस्कवरी कैपिटल और बर्कशायर हैथवे की 10-10 फीसदी से भी कम हिस्सेदारी है।

विकास ऐसे समय में आया है जब पेटीएम सार्वजनिक लिस्टिंग के लिए कमर कस रहा है। एक सूत्र ने कहा कि पेटीएम को अपनी शुरुआती शेयर बिक्री के जरिए 16,600 करोड़ रुपये जुटाने के लिए 12 जुलाई को शेयरधारकों की मंजूरी लेने की उम्मीद है, जिससे उसे 1.78 लाख करोड़ रुपये से अधिक का मूल्यांकन मिलेगा।

पेटीएम की असाधारण आम बैठक 12 जुलाई को होनी है जिसमें कंपनी नई इक्विटी जारी करके 12,000 करोड़ रुपये तक जुटाने की मंजूरी ले सकती है। मौजूदा और पात्र शेयरधारकों द्वारा इक्विटी शेयरों की बिक्री से 4,600 करोड़ रुपये जुटाए जाने की उम्मीद है।

कंपनी आईपीओ के जरिए करीब 16,600 करोड़ रुपये जुटाने के लिए शेयरधारकों की मंजूरी ले सकती है। मौजूदा शेयरधारकों, पूर्व और वर्तमान कर्मचारियों ने भी इस प्रक्रिया में अपने शेयर बेचने का विकल्प चुना है। सूत्र ने कहा, ‘फर्म का मूल्यांकन 1.78 लाख करोड़ रुपये से 2.2 लाख करोड़ रुपये के बीच होने की संभावना है।

इस वैल्यूएशन रेंज के साथ, कंपनी के शीर्ष 10 सूचीबद्ध वित्तीय सेवा कंपनियों में शामिल होने की उम्मीद है। कंपनी के अगले हफ्ते इनिशियल पब्लिक ऑफर (आईपीओ) के लिए दस्तावेज दाखिल करने की उम्मीद है।

सभी पढ़ें ताजा खबर, आज की ताजा खबर तथा कोरोनावाइरस खबरें यहां

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here